SHE- The Change

ऐ नारी, तुझे क्या मैं कहूँ, तेरी हर बात निराली है, तू तो उपवन का पौधा है, जिस घर रहे वहाँ हरियाली ही हरियाली है, तेरी शान में सिर्फ सजदा करते हैं, तेरी उंचाईयों के आगे आसमान भी छोटा है, मेरा सिर्फ इतना सा एक पैगाम है, ऐ नारी, तुझे मेरा सर झुका कर सलाम … Continue reading SHE- The Change

शेखर एक जीवनी

'शेखर एक जीवनी' महज एक उपन्यास नहीं है और न ही कथानायक शेखर की जीवनी का लेखा-जोखा, वरन् स्नेह और वेदना का जीवन-दर्शन भी है, जिसे लेखक ने अपने जीवनानुभवों के विस्तृत दायरे के सूत्र में पिरोया है। सच्चिदानन्द हीरानन्द वात्स्यायन 'अज्ञेय' की यह अमर कृति हिन्दी साहित्य में मील का पत्थर है। प्रमुख चरित्र … Continue reading शेखर एक जीवनी

Transforming Lives Together – Eye Relief Camp

"The happiest people I know are those who lose themselves in the service of others." ~ Gordon B. Hinckley Carrying forward the legacy beholden by the saying, ‘Service before self’, the 54th Eye Relief Camp registered to its name, another year of glory with the successful cataract operations of 63 patients from the underprivileged strata of … Continue reading Transforming Lives Together – Eye Relief Camp

शायद मैं तुम जैसा नहीं।

रूप में, श्रृंगार में बात में, व्यवहार में सोच में, विचार में रक्षा में, प्रहार में उपकार में, उपहार में प्रवाह में, धार में हर जीत में, हर हार में कहीं सही, तो कहीं गलत रहा हूँ मैं हाँ, थोड़ा अलग रहा हूँ मैं। कोई बात कैसे मान लूँ, जब तक न सच मैं जान … Continue reading शायद मैं तुम जैसा नहीं।

A story of perseverance: Swapnil Singh

Congratulations Ma'am!! What was your first reaction when you found out your result? I was very confused because the very first time I saw the results; I couldn't find my name in it. Someone had sent the pictures of the result and as such, I didn't get the pdf of results; I was like CHALO … Continue reading A story of perseverance: Swapnil Singh