INDUSTRIAL READINESS TRAINING WORKSHOP

"Tell me and I forget, teach me and I remember, involve me and I learn."The authenticity of these words by Benjamin Franklin is undeniable in analysing the necessities of the present-day work environment. Today's system of learning is controversial in terms of the quality of knowledge imparted. With recent advancement in various fields, the demands … Continue reading INDUSTRIAL READINESS TRAINING WORKSHOP

सहस्त्रफण

आँधियों से लगातार उलझता रहा मैं,तूफ़ानों ने रौंदा मुझको,जलजलाओं को आधार बना,फिर भी अचल रहा मैं। बिजलियाँ मेरी सहगामिनी बनीउल्कावृष्टियों के आघात सहकर भी,ज्वालामुखियों के मुहाने पर भी,तन कर खड़ा रहा हूँ। ज्वारों ने बिखेरा मुझको,फिर भी पुनः समेटा खुद को,हिम शीत भी मुझे जड़वत न कर सकी,मुझ अमर्त्य वीर मनुपुत्र को। मैं भी बन … Continue reading सहस्त्रफण

Smiling Buddha

Recently DRDO (Defense Research and Development Organisation), India successfully tested the Hypersonic Technology Demonstrator Vehicle which led India to the list of select few nations with such cutting-edge technology. Upholding sovereignty and maintaining peace has always been of foremost importance to India. The nation is truly proud and appreciative of DRDO and other such organisations … Continue reading Smiling Buddha

विघ्नहर्ता गणेश

आज भाद्रपद मास के कृष्णपक्ष की चतुर्थी है और साथ ही बप्पा के आगमन का दिन अर्थात गणेश चतुर्थी है। चारों ओर हर्षोल्लास का माहौल है। महाराष्ट्र के एक छोटे-से गाँव में रहने वाले मनु के घर में भी इसी तरह चहल-पहल है क्योंकि इस वर्ष मनु के घर पहली बार गणपति का आगमन होने … Continue reading विघ्नहर्ता गणेश

बाढ़, किसान और कवि

यह एक कहानी है जिसमें एक पत्रकार महोदय जो कि एक कवि भी हैं, बिहार में आई बाढ़ की पत्रकारिता करने वहाँ गए हैं। वहाँ वे एक किसान से मिलते हैं। वह किसान लाचार इधर - उधर पानी में भटक रहा है। कवि व्याकुल हो उससे पूछते हैं- सरिता है उफान परधरती भी जा रही … Continue reading बाढ़, किसान और कवि