सीरिया: मनुष्य और मनुष्यता पर एक नज़र

आपकी भावनाएँ आपके विचारों की दासी हैं, और आप अपनी भावनाओं के दास हैं। ~एलिज़ाबेथ गिल्बर्ट   "मनुष्य सबसे संवेदनशील प्राणी है" ऐसा कहा जाता है। गौर करने की बात है कि यह कहता भी मनुष्य ही है; हम और आप। आज दुनिया में गंभीर हालात हैं। इसका कारण मनुष्य ही है, या यह कह … Continue reading सीरिया: मनुष्य और मनुष्यता पर एक नज़र

​How safe is our biometric data? 

With Aadhaar, all of us have given our fingerprints and iris scans to the government. This clearly gives an individual a 'unique' identity. Aadhaar will become the primary identity of any person in India in near future. More than 90% of the population have enrolled for an Aadhaar Card. That’s HUGE! Till now, UIDAI has … Continue reading ​How safe is our biometric data? 

Oscar Blunder 2017

Oscar 2017 was the one memorable event in its history. The Academic Award Ceremony held on February 26 disappointed on another count when it goofed-up the winner for the Best Picture. Presenter Warren Beatly wrongly announced La La Land as the Best Motion Picture. The mistake was not rectified then because the musical drama with … Continue reading Oscar Blunder 2017

हिंदी का पुनर्जीवन

भाषा महज एक अभिव्यक्ति का माध्यम ही नहीं; हमारी संस्कृति, सभ्यता और आचरण की अभिव्यक्ति का माध्यम भी होती है। वर्तमान में एक बिंदु पर खड़ी भाषा, या फिर चहुँओर फैली भाषा, सफल और परिष्कृत...अपने साथ इतिहास के कई पदचिह्नों और बदलावों को समेटे रहती है। भाषा से प्यार, भाषा से अपनापन, भाषा को अपनाना … Continue reading हिंदी का पुनर्जीवन