शरद में वसन्त सा उत्सव-शरदोत्सव

उतरे जब सभी तारे मंच पर, मन हो गया अधीर। उछल पड़ा तब हृदय पाँव संग, निकले जब हुनर के तीर। बी.आई.टी. के सांस्कृतिक महोत्सव का सभी अधीरता से प्रतीक्षा करते हैं क्योंकि यह नवागंतुकों के लिए संस्थान का पहला बड़ा कार्यक्रम होता है तथा अंतिम वर्ष के लिए आखिरी। इसलिए सभी की ऊर्जा अपने … Continue reading शरद में वसन्त सा उत्सव-शरदोत्सव

ध्वनि

एक छुपी सी तमन्ना थी मेरी, जो कभी ख्वाहिश का नाम न ले सकी। दबी सी रह गयी वो सीने में सालों-साल, कभी ज़ुबा की कहानियां न बन सकी। सुलगती रह गयी वो अंदर ही अंदर, पर आग कभी न बन सकी, मचलते रह गए वो विचार, अल्फ़ाज़ कभी न बन सके। रोती रही वह … Continue reading ध्वनि

TEDxBITSindri- A saga of inspiration and exhilaration in the campus.

The bubbles were on boil, ready to escape. And so were emotions. The blitz, the glamour, the festivity, the fervour. To kindle this very spirit of igniting zeal and inspiration in the populace of our institution, the inaugral event of TEDxBITSindri was set to bring together, a stellar line-up of unprecedented speakers, gathered under one … Continue reading TEDxBITSindri- A saga of inspiration and exhilaration in the campus.

पहली झलक के किस्से

आंखे फकत ढूंढती रहती इश्क हर गलियारों में, चार दिवारी घुट कर रहती बन्द एक आशियाने में। मुस्कुराकर वो तालीम दे गई हरकते हमारी देख कर, इश्क रश्म समझा हमने आशिक-परवानों को भेट कर। आंखो में नुर झलकती जैसे ईद की मेहताब है, लफ्ज़ होठो से निकलते जैसे शरबती शराब है। किस्मत की शाम को … Continue reading पहली झलक के किस्से